सोनीपत मे रोहतक रोड को जोड़ेगा नेशनल हाईवे का बाईपास,28 अकड़ जमीं का होगा अधिकरण

चंडीगढ़ :  हरियाणा में कई जगह सड़क मार्गों को प्रशस्त करने का काम किया जा रहा है। सरकार का उद्देश्य प्रदेश के नागरिकों को बेहतर सड़क मार्गों की सुविधा देने का है

इसलिए प्रदेश में हाइवे, अंडरपास, बाइपास और पुलों का निर्माण भी किया जा रहा है। वहीं सोनीपत में रोहतक रोड को नेशनल हाइवे से जोड़ने के लिए भी बाइपास का निर्माण किया जा रहा है।

इसके लिए सीएम ने भी बैठक ली है।वही खबर है कि इस बाइपास के निर्माण के लिए अब चार गाँव की 28 एकड़ जमीन का अधिग्रहण किया जाएगा।

बजट मिलते ही इस प्रोजेक्ट पर काम करना भी शुरू कर दिया जाएगा। इससे रोहतक और सोनीपत के साथ साथ कई

इलाकों के लोगो को फायदा होने वाला है। कई शहरों में जाना इस बाइपास से आसान हो जाएगा।

रोहतक रोड पर बनाया जा रहा बाइपास

दरअसल सोनीपत में रोहतक रोड को नेशनल हाइवे 334बी से जोड़ने के लिए बाइपास बनाने की योजना पर काम चल रहा है।

हाल ही में सीएम मनोहर लाल की अध्यक्षता में पावर कमेटी की बैठक का आयोजन भी किया गया था जिसमें कहा गया है कि इस रोड के निर्माण के लिए चार गाँव की 28 एकड़ जमीन

का अधिग्रहण किया जाएगा। वही कलेक्टर रेट से डेढ़ गुना ज्यादा मुआवजा जमीन मालिकों को देने की बात भी कही गई है।

प्रदेश सरकार इस बाइपास के निर्माण के लिए पहले ही हाँ कर चुकी है। लोक निर्माण विभाग इस निर्माण के लिए 17 करोड़ खर्च करेगा। अभी तक बजट नहीं मिल पाया है और बजट

मिलते ही इस रोड को बनाने का काम भी शुरू कर दिया जाएगा। इससे कई शहरो को बेहतर कनेक्टिविटी भी मिल सकेगी। सोनीपत से मेरठ और लोहारु जाने के लिए भी आसानी हो सकेगी।

कई शहरों में आना जाना हो जाएगा आसान

बताया जा रहा है कि इस रोड के लिए बैयापुर, हरसाना खुर्द, हरसाना कलां और नसीरपुर के गांवों की जमीन का अधिग्रहण किया जाने वाला है।

वहीं इस बाइपास के निर्माण के बाद सोनीपत शहर के लोगों का जुड़ाव भी सीधा एनएच 334बी के साथ हो सकेगा।

ऐसे में इस हाइए से जुडने पर झज्जर, मेरठ और लोहारु जाना आसान हो जाएगा। जल्द ही इस प्रोजेक्ट पर काम शुरू किए जाने की उम्मीद है।