करनाल पुलिस पर बदमाशों का ताबड़तोड़ वार, एक पुलिसकर्मी की हालत गंभीर,ऐसे हुई ये वारदात

हरियाणा के करनाल में ITI चौक पर 3 पुलिसकर्मियों पर बदमाशों ने तेज धार हथियार से जानलेवा हमला कर दिया। जिसमें एक पुलिसकर्मी को बदमाशों ने लाठी डंडों से वार कर

बेहोश कर दिया। आरोपी अंधेरा का फायदा उठाकर मौके से फरार हो गए। पुलिस ने 4 बदमाशों के खिलाफ हत्या के प्रयास सहित विभिन्न धाराओं में तहत मामला दर्ज किया है।

जानकारी के अनुसार, रविवार देर रात ITI चौक के पास 4 बदमाश गंडासी और बिंडे लिए घूम रहे थे। पुलिस को बदमाशों के बारे में सूचना मिली तो ERV मौके पर पहुंची।

SPO कुलदीप सिंह और ESI जसपाल सिंह गाड़ी से नीचे उतरे तो बदमाशों ने ललकारा देकर पहले SPO कुलदीप पर गंडासी से वार किया, लेकिन कुलदीप सिंह उस समय नीचे बैठ गए और बच गए।

वहीं जब ESI जसपाल बदमाशों को पकड़ने लगा तो पीछे से दूसरे आरोपी ने उनके सिर पर डंडों से वार कर दिया। जब उसको बचाने के लिए ERV से सिपाही ड्राइवर कुलदीप नीचे

उतरा तो उस पर हमला किया, लेकिन वह बच गया। बाद में बदमाशों ने ESI जसपाल के जबड़े पर बिंडा मारा जिससे वह बेहोश होकर वहीं पर गिर गया। घायल ESI जसपाल को निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

वारदात के बाद सुनसान सड़क।
वारदात के बाद ITI संस्थान में घुसे बदमाश
पुलिस कर्मियों पर हमला करने के बाद चारों बदमाश अंधेरे व धुंध का फायदा उठाकर ITI संस्थान में घुस गए। जिनकी तलाश के लिए करनाल पुलिस के 20 से 25 जवान हाथ में

डंडे लेकर संस्थान में घुसे और रात भर संस्थान के चप्पे-चप्पे की खोजबीन करते रहे, लेकिन बदमाशों को कोई सुराग नहीं लग पाया।

2019 का मंजर आया लोगों को याद
रात भर ITI में पुलिसकर्मियों की मुस्तैदी को देखकर एक बार फिर वर्ष 2019 का मंजर लोगों को याद आ गया। जिसमें छात्र और पुलिस के बीच में पत्थरबाजी हुई थी।

जिसमें पुलिस ने संस्थान में घुसकर बच्चों व संस्थान के प्राचार्य के साथ मारपीट की थी। वह मंजर भी ITI के प्रशिक्षक व बच्चे कभी भुला नहीं पाएंगे।

किसी वारदात को अंजाम देने आए थे बदमाश
पुलिसकर्मियों पर हमला करते समय चारों बदमाश एक दूसरे का नाम साहिल, गौरव, अर्जुन व अमन ले रहे थे। जो करनाल में एक बड़ी वारदात को अंजाम देने वाले थे।

चारों बदमाशों के हाथ में बिंडे व गंडासियां थीं। जैसे ही पुलिस मौके पर पहुंची तो बदमाशों ने कहा कि ये लोग वारदात को अंजाम नहीं देने देंगे।

पहले इनको ही देख लेते हैं। इतनी देर में बदमाशों ने पुलिस कर्मचारियों पर तेज धार हथियार व बिंडों से हमला कर दिया।

दो हिरासत में, दो अभी भी फरार
सेक्टर 32,33 थाना पुलिस ने सोमवार देर रात तक दो आरोपी अमन वासी पानीपत व अर्जुन निवासी यूपी को हिरासत में लिया है, लेकिन थाना प्रभारी इस मामले में अभी कुछ बोलने

को तैयार नहीं है। पुलिस ने एक आरोपी को सोमवार सुबह ही विकास नगर के पास से पकड़ लिया था। एक आरोपी के बाद दूसरे आरोपी को पुलिस ने हिरासत में लिया। बाकी दो अन्य लोगों की तलाश पुलिस कर रही है।

एक दिन बाद दर्ज की FIR
जब मामला 1 जनवरी की देर शाम था तो पुलिस ने सोमवार शाम को क्यों FIR दर्ज की। ऐसे में लोग पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल उठ रहे हैं।

क्या पुलिस ने नव वर्ष के पहले दिन अपनी फजीहत बचाने के लिए तो रविवार को FIR दर्ज नहीं की। जबकि इस मामले में एक पुलिस कर्मचारी की हालत गंभीर बनी हुई है।

जल्द ही आरोपी होंगे गिरफ्तार
सेक्टर 32,33 थाना के SHO रामफल ने बताया कि पुलिस इस मामले की जांच कर रही है। इस मामले में एक पुलिसकर्मी की हालत अभी गंभीर बनी हुई है।

जिसका इलाज करनाल के निजी अस्पताल में चल रहा है। आज पुलिसकर्मी का ऑपरेशन होना है। जल्द ही सभी आरोपी पुलिस की गिरफ्त में होंगे।