रोहतक शहर भी होगा अब इलेक्टिक हब मे शामिल, इलेक्टिक वाहनों के साथ बढ़ेंगे रोजगार के भी अवसर

देश में इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देने का काम तेजी से किया जा रहा है। पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दामों को देखकर लोग खुद भी ईवी पर ही शिफ्ट कर रहे हैं।

वहीं देश में अलग अलग राज्यों के शहरों को इलेक्ट्रिक हब बनाने का काम भी किया जा रहा है। ऐसे में खबर आ रही है कि अब जल्द ही हरियाणा के रोहतक को भी इलेक्ट्रिक हब

बनाया जा सकता है। कहा जा रहा है कि रोहतक के इलेक्ट्रिक हम बनते ही प्रदेश में बिजनेस और रोजगार की संभावनाएं भी तेजी से बढ़ जाएंगी.

अड़चनों को किया जा रहा है दूर हालांकि इस रास्ते में कुछ अड़चनें भी हैं जिन पर अधिकारियों द्वारा विचार किया जा रहा है।

हालांकि रोहतक को इलेक्ट्रिक हब बनाने में कई उद्यमी रुचि दिखा रहे हैं। रोहतक को इलेक्ट्रिक हब बनाने के लिए उद्यमी लगातार अधिकारियों से मुलाक़ात कर रहे हैं।

हालांकि अभी इस पर फैसला नहीं हो सकता है जिसके कई कारण भी बताए जा रहे हैं।

तलाशी जा रही हैं रोहतक को ईवी हब बनाने की संभावनाओं खबर आ रही है कि रोहतक को इलेक्ट्रिक हब बनाने की संभावनाओं को तलाशने का काम किया जा रहा है।

एनआईटी कुरुक्षेत्र के अधिकारी भी शहर का कई बार दौरा भी कर चुके हैं। वहीं हाल ही में फ़ोरेन कॉर्पोरेशन विभाग के सीएम एड्वाइज़र पवन चौधरी भी रोहतक में उद्यमियों से

मुलाक़ात करने पहुंचे थे जहां रोहतक को इलेक्ट्रिक हब बनाने पर विचार किया गया।पिछले तीन सालों से ही रोहतक को इलेक्ट्रिक हब बनाने की मांग की जा रही है

लेकिन इस प्रोजेक्ट पर अब ज़ोरों शोरों से काम शुरू कर दिया गया है। हालांकि अभी ये फाइनल नहीं हुआ है कि रोहतक को इलेक्ट्रिक हब बनाया जाएगा

या नहीं क्योंकि इस मार्ग में कई अड़चनें भी आ रही हैं जिन पर विचार करना बेहद जरूरी है।

इन कारणों से आ रही है मुश्किल दरअसल रोहतक को नट बोल्ट के कारोबार के लिए जाना जाता है लेकिन इलेक्ट्रिक वाहनों के आने के बाद ये कारोबार ठप्प होते नज़र आ रहा है।

इसलिए रोहतक को इलेक्ट्रिक हब बनाने पर फिलहाल मंथन चल रहा है। इसके अलावा भी कई कारण हैं जिन पर विचार किया जा रहा है जल्द ही कोई फैसला सामने आ सकता है।