हरियाणा और दिल्ली मे सितम्बर के बाद सरसों के भाव में आएगी तेजी, जाने अपने शहर के सरसो का भाव

20220822 144743

चंडीगढ़ :- पिछले कुछ महीनों से चल रही भारी उठापटक के बाद अब सरसों के दाम स्थिर बने हुए हैं. जहां एक ओर मार्च के महीने में तेल तिलहन के दाम Top पर थे,

वही आज इनके दामों में काफी कमी आ चुकी है. दामों में तेजी के लिए किसानों ने बड़ी मात्रा में सरसों का Stock भी

1200px BrownMustardSeed

किया हुआ है. भारत के साथ-साथ विदेशी बाजारों में भी खाद्य तेल की कीमत में कमी देखने को मिल रही है.

खाद्य तेल की कीमतों में आई कमी
March में जहां पाम तेल FOB का भाव 1900 डॉलर प्रति टन था, जो अब घटकर 1000 डॉलर प्रति टन तक पहुंच चुका है .

हाल ही में सोयाबीन के तेल की कीमतों में भी International Market में कमी देखने को मिली. खाद्य तेल को लेकर अंतरराष्ट्रीय बाजार में अस्थिरता का वातावरण बना हुआ है.

pic

इंडोनेशिया में पाम तेल के बढ़ते स्टॉक की वजह से September महीने में गिरावट की आशंका बन रही है, इसी वजह से भारत में खाद्य तेलों के आयात की रफ्तार भी कम हो रही है.

आयातक व्यापारी भी अब आयात से पीछे हटने लगे हैं
बड़े आयातक व्यापारी भी आयात से पीछे हटने लगे हैं, क्योंकि वह इस साल पहले ही काफी नुकसान उठा चुके है. भारत के बाद चीन खाद्य तेलों का दूसरा सबसे बड़ा आयातक है.

mustard seed

चीन में भी खाद्य तेलों का स्टॉक कम हुआ है. यूरोपियन देशों में भी सूखे की हालत की वजह से तेल- तिलहन का Production कम हुआ है.

अमेरिका में सोयाबीन फसल को लेकर भी मौसम अनुकूल होने की खबर सामने आ रही है. India में सोयाबीन की बिजाई वाले राज्यों में ज्यादा Barrish की वजह से फसल को काफी नुकसान हो चुका है.

हरियाणा में सरसों के आज के भाव
दिल्ली में सरसों का भाव – 6600 रूपये
हिसार में सरसों का भाव – 6200 रूपये
सिरसा मंडी में सरसों का भाव – 6206 रूपये
बरवाला में सरसों का भाव – 6200 रूपये
आदमपुर मंडी में सरसों का भाव – 6400 रूपये
ऐलनाबाद मंडी में सरसों का भाव – 6441रूपये