पांच दिन पहले जहां बजी थी शहनाई, वहां उठी अर्थी, युवा कोच की मौत

हरियाणा में देर रात दर्दनाक हादसा हो गया। जिस घर में पांच दिन पहले शहनाई बजी थी, वहां मातम छा गया। जिस घर में खुशी के गीत गाए जा रहे थे, दुल्‍हन के हाथों की मेहंदी भी हल्‍की नहीं पड़ी थी कि उसका सुहाग उजड़ गया। झज्‍जर के गांव महराणा के पास देर रात को खड़े ट्रक में मोटरसाइकिल टकराने से वुशु एवं किक बाक्सिंग के कोच की मौत हो गई।

मृतक की 19 जुलाई को ही शादी हुई थी। खुशियों भरे घर में वुशु कोच की मौत के बाद मातम छा गया हैं। हादसा उस समय हुआ जब गांव चिमनी निवासी 23-24 वर्षीय नितिन पुत्र भरत सिंह अपनी मोटरसाइकिल पर वीरवार रात को घर लौट रहा था। इसी दौरान गांव महराणा के पास खड़े ट्रक में मोटरसाइकिल की टक्कर हो गई। जिस कारण नितिन की मौत हो गई। पुलिस ने मामले की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचकर जांच आरंभ कर दी। मृतक के स्वजनों के बयान पर ट्रक चालक के खिलाफ मामला दर्ज करते हुए शव को पोस्टमार्टम के बाद सौंप दिया।

गांव चिमनी निवासी नीरज ने पुलिस को दिए बयान में बताया कि वह 22 जुलाई को बहादुरगढ़ गया हुआ था। बहादुरगढ़ से वापस आ रहा था तो रात को उसका भतीजा गांव चिमनी निवासी नितिन पुत्र भरत सिंह बुलेट मोटरसाइकिल पर गांव छारा में मिला। दोनों अपने-अपने मोटरसाइकिल पर घर के लिए चल पड़े। नीरज ने बताया कि गांव महराणा से दुजाना की तरफ सड़क पर एक ट्रक खड़ा हुआ था। उस ट्रक की ना तो लाइटें जल रही थी और ना ही रिफ्लेक्टर लगे हुए थे। नितिन मोटरसाइकिल पर आगे चल रहा था वह महराणा से दुजाना की तरफ चला तो सड़क पर खड़े ट्रक से उसकी टक्कर हो गई। जिस कारण नितिन को गंभीर चोटें आई। ट्रक से टक्कर के कारण मोटरसाइकिल चालक नितिन की मौत हो गई।

स्वजनों ने बताया कि नितिन वुशु व किक बाक्सिंग का कोच था। एक प्राइवेट स्कूल में कोच के पद पर तैनात था। नितिन की शादी पांच दिन पहले ही हुई थी। 19 जुलाई को शादी के बंधन में बंधा था और 20 जुलाई को नितिन ने शादी की रिसेप्शन पार्टी थी। शादी के बाद परिवार में खुशियों का माहौल था। लेकिन रात को हुए इस हादसे ने खुशियों भरे माहौल को मातम में तब्दील कर दिया। जब इस हादसे का परिवार वालों को पता चला तो उनके पांव तले जमीन खिसक गई। स्वजन नम आंखों यही कहते नजर आ रहे थे कि अभी तो नितिन अपने जीवन साथी के साथ नई जिंदगी की शुरूआत कर रहा था, उससे पहले ही बिछड़ गया। बड़े-बुजुर्ग परिवार वालों का ढांढस बंधाने का प्रयास कर रहे थे।

जांच अधिकारी सतपाल सिंह ने बताया कि सड़क हादसे की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचकर जांच आरंभ कर दी थी। मृतक के स्वजनों के बयान दर्ज किए हैं। बयानों के आधार पर ट्रक चालक के खिलाफ मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी। शव को पोस्टमार्टम के बाद स्वजनों को सौंप दिया।