कोरोना की तीसरी लहर के लिए तैयार है रोहतक पीजीआई, स्वास्थ्य मंत्री विज ने दी कई सौगातें

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि हरियाणा को ऑक्सीजन के मामले में आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में हम गंभीरता से काम कर रहे हैं, इसी कड़ी में ऑक्सीजन जनरेटर प्लांट हर अस्पताल में लगाए जाएंगे। आवश्यकता पड़ने पर किसी और से ऑक्सीजन ना मांगनी पड़े इसलिए हम अपनी कोरोना की दूसरी लहर के अनुभवों का इस्तेमाल करते हुए आगे बढ़ेंगे।

विज ने कहा कि राज्य में 40 ऑक्सीजन प्लांट पीएम केयर्स फंड से लगेंगे जबकि 139 ऑक्सीजन प्लांट के टेंडर जल्दी किए जाएंगे। सीएसआर के माध्यम से भी कुछ ऑक्सीजन के प्लांट हरियाणा में लगाए जा रहे हैं। इसके अलावा, हर अस्पताल और मेडिकल कॉलेज में हर बेड तक पाइप से ऑक्सीजन पहुंचाने की सुविधा को लगाने के आदेश कर दिए गए हैं और इस पर काम भी आरंभ हो चुका है।

अनिल विज पीजीआई , रोहतक में विभिन्न योजनाओं और परियोजनाओं के शुभारंभ और लोकार्पण कार्यक्रम में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मुख्य अतिथि के रूप में डिजिटली जुड़े लोगों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि पीजीआई रोहतक में आज 1000 लीटर प्रति मिनट का ऑक्सीजन प्लांट लगाए का लोकार्पण हुआ है। इसी प्रकार, 833 लीटर के एक और ऑक्सीजन प्लांट को जनता को समर्पित किया जा रहा है। इसके अलावा, जल्द ही 1000 लीटर के और ऑक्सीजन प्लांट को चालू कर दिया जाएगा।

मंत्री ने ब्रेन डे पर सभी को बधाई देते हुए कहा कि जनता को न्यूरो सर्जरी का आईसीयू भी समर्पित करने जा रहे हैं जो 10 बेड का है। इसके अलावा हीमोडायलिसिस सेंटर भी जनता को समर्पित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि 20 जिलों में हिमो डायलिसिस सेंटर अपनी सेवाएं दे रहे हैं लेकिन आज पीजीआईएमएस रोहतक में यह सेंटर लोगों को समर्पित किया जा रहा है जिससे 8 मशीनें लग गई हैं। इसके अलावा जल्दी दो मशीनों को और लगाया जाएगा। ऐसे ही, माल्डी टोफ एवं बॉयोफायर फिल्मऔरे का लोकार्पण भी किया गया है।

इसके अतिरिक्त विज ने न्यूक्लियर मेडिसिन कंपलेक्स, लीनियर एक्सीलेटर कंपलेक्स,कम्युनिटी सेंटर और कन्वेंशन हॉल का शिलान्यास भी किया। उन्होंने कहा कि आयुष्मान भारत योजना में बीपीएल कार्ड धारकों को हम जोड़ने जा रहे हैं और इसके अलावा और अन्य श्रेणियों को भी जोड़ा जाएगा ताकि हरियाणा में स्वास्थ्य सेवाएं शुरू हो सके। उन्होंने कहा कि किसी भी आपदा या कठिनाई के लिए हरियाणा से बाहर किसी भी व्यक्ति को ना जाना पड़े, हरियाणा को हमने मजबूत बनाना है।

यदि किसी भी व्यक्ति को स्वास्थ्य की दिक्कत आती है तो हरियाणा में अच्छी स्वास्थ्य सुविधाएं हमें तैयार करनी होगी।विज ने कहा कि स्वास्थ्य सिस्टम को अपग्रेड और अपडेट करने के लिए हम लांग टर्म और शार्ट टर्म योजनाओं पर काम कर रहे हैं। इसी प्रकार, कोरोना की संभावित तीसरी लहर पर भी बनाई गई योजना पर काम चल रहा है।

इसके अलावा पीजीआईएमएस में दो हाई कैपेसिटी ऑक्सीजन जनरेटर प्लांट्स को लगाया गया है , जिनमें से 1000 और 833 लीटर कैपेसिटी है। इसके अलावा, 1000 एलपीएम वाला जनरेटर भारत सरकार की तरफ से डीआरडीओ द्वारा प्रदान किया गया है और 833 एलपीएम वाला जनरेटर मैकेनजी ग्रुप ने सीएसआर के अंर्तगत प्रदान किया है । इसके अलावा आने वाले दो हफ्ते के अंदर 1000 एलपीएम का तीसरा जनरेटर भी शुरू हो जाएगा ।
पीजीआईएमएस, रोहतक में न्यूरो सर्जरी का सुपर स्पेशलिटी ट्रेनिंग कोर्स चार साल पहले शुरू किया गया था। संस्थान में पिछले काफी लंबे समय से न्यूरो सर्जरी के एक अच्छे आईसीयू की जरूरत महसूस की जा रही थी, जिस पर कार्यवाही करते हुए किसी बड़े कॉरपोरेट अस्पताल की तरह यहां पर आज 10 बैड के आईसीयू का भी उद्घाटन किया गया ताकि न्यूरो सर्जरी के मरीजों को अच्छा इलाज मिल सके । इस आईसीयू में वेंटिलेटर, मल्टी पैरा मॉनिटर एवं आधुनिक सुविधाएं है। इस आईसीयू को भी आवश्यकता पड़ने पर कोविड की तीसरी लहर में इस्तेमाल किया जा सकता है।

12 मशीन वाली हीमोडायलिसिस मशीन जो पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप में लगाई गई हैं, उनका भी लोकार्पण आज किया गया है। यहां पर हेपेटाइटिस बी, सी एवं एड्स के रोगियों का डायलिसिस भी किया जाएगा। इसके साथ ही यहां पर बीपीएल कार्ड धारक, आयुष्मान भारत स्कीम के लाभार्थियों को फ्री में डायलिसिस की सुविधा प्रदान की जाएगी। आवश्यकता पड़ने पर कोविड की तीसरी लहर में इस्तेमाल किया जा सकता है।

कोविड एवं अन्य बिमारियों के रोगियों को आईसीयू में इफैक्शन होने पर कल्चर सेंसिटीविटी रिपोर्ट तैयार करने में 72 घंटे का समय लगता है लेकिन हरियाणा में प्रथम एवं नवीनतम मषीन माल्डी टोफ एवं बॉयोफायर फिल्मऔरे की मदद से केवल 5-6 घंटे में ही यह रिपोर्ट संभव हो पाएगी , जिससे इलाज में देरी नहीं होगी । ये सारी सुविधाएं कोविड 19 की तीसरी लहर में बहुत ही लाभकारी सिद्ध होंगी।