हरियाणा सरकार ने इस राज्य के 17 गावँ के किसानो को मुआवजा देने का किया एलान, जाने कैसे

हरियाणा में केएमपी एक्सप्रेस वे के साथ हरियाणा ऑर्बिटल रेल कॉरिडोर का काम भी किया जा रहा है। इस कॉरिडोर का काम तेजी से चल रहा है और अब किसानों को मुआवजा देने

का ऐलान भी कर दिया गया है। इसमें 17 गांवों के किसानों को मुआवजा दिया जाने वाला है। झज्जर के 17 गांवों के किसानों को जमीन का मुआवजा देने का ऐलान कर दिया गया

है। बताया जा रहा है कि इन किसानों को करोड़ों रुपए का मुआवजा दिया जाने वाला है। इस कॉरिडोर से किसानों को भी काफी लाभ मिलने वाला है आइए जानते हैं खबर से जुड़ी खास बातें

झज्जर के 17 गांवों के किसानों को मिलेगा मुआवजा

हरियाणा ऑर्बिटल रेल कॉरिडोर का निर्माण तेजी से किया जा रहा है। अब इसी के चलते सरकार ने झज्जर के 17 गांवों के किसानों को जमीन का मुआवजा देने का ऐलान कर दिया है।

बताया जा रहा है कि 17 गांवों के किसानों को करीब 340 करोड रुपए का मुआवजा दिया जाने वाला है। यह मुआवजा 50 लाख रुपए से लेकर 2.50 करोड़ रुपए प्रति एकड़

निर्धारित कर दिया गया है। सर्किल रेट से यह डेढ़ गुना ज्यादा है इससे किसानों को भी सरकारी रेट से 50 फ़ीसदी ज्यादा जमीन का मुआवजा मिल पाएगा।

किसान नहीं है मुआवजे से संतुष्ट

बताया जा रहा है कि इस मुआवजा राशि पर किसान सवाल उठा रहे हैं और उनका कहना है कि उनकी जमीन कीमती है लेकिन अधिकारियों ने उनकी जमीन के रेट सही नहीं लगाए

हैं। इसी कारण से अब झज्जर के 17 गांवों के किसानों की बैठक होने वाली है और इसी बैठक में तय किया जाएगा कि किसान मुआवजा लेंगे या फिर आंदोलन शुरू होगा।