हरियाणा – दिल्ली वासियों को जल्द ही मिलेगी इन 3 नेशनल हाईवे की सौगात

हरियाणा-दिल्ली वालों के लिए खुशखबरी। दरअसल दिल्ली से हरियाणा, चंडीगढ़, पंजाब, हिमाचल व जम्मू-कश्मीर के बीच आवाजाही करने वाले वाहन नए हाईवे से होकर जा सकेंगे

। हरियाणा में भारतमाला प्रोजेक्ट के तहत तीन नए नेशनल हाईवे बनेंगे। केंद्र सरकार ने तीनों हाईवे को मंजूरी दे दी है। पानीपत से चौटाला गांव, हिसार से रेवाड़ी और अंबाला से दिल्ली के बीच इन हाईवे का निर्माण होगा।

प्रदेश सरकार ने केंद्रीय सड़क एवं भूतल परिवहन मंत्रालय को तीनों हाईवे की स्वीकृति के लिए प्रस्ताव बनाकर भेजा था।अंबाला से दिल्ली के बीच यमुना किनारे नया हाईवे बनने पर चंडीगढ़ से दिल्ली के बीच की दूरी दो से ढाई घंटे में तय हो

जाएगी। यमुना किनारे बनने वाले हाईवे से जीटी रोड पर वाहनों का दबाव कम होगा।दिल्ली से हरियाणा, चंडीगढ़, पंजाब, हिमाचल व जम्मू-कश्मीर के बीच आवाजाही करने वाले वाहन नए हाईवे से होकर जा सकेंगे।

नई दिल्ली के अक्षरधाम से शुरू होकर यह सड़क अंबाला तक बनेगी। अंबाला से चंडीगढ़ के बीच पहले ही नेशनल हाईवे है, जो सिक्स लेन है।

इस पर नए फ्लाईओवर बनाने का काम भी चल रहा है।इसे पंचकूला से यमुनानगर तक बनाए गए एक्सप्रेस-वे के साथ भी जोड़ा जाएगा। पानीपत से चौटाला गांव तक नया ग्रीन फील्ड एक्सप्रेस-वे बनेगा। इससे बीकानेर से सीधे मेरठ तक की

कनेक्टिविटी होगी। चौटाला पूर्व उपप्रधानमंत्री देवीलाल, पूर्व मुख्यमंत्री ओपी चौटाला और उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला का गांव है। इस तक ग्रीन फील्ड एक्सप्रेस वे मंजूर कराकर दुष्यंत ने बड़ी सौगात दी है।

अगले साल शुरू हो सकता है निर्माण-

तीनों नए हाईवे स्वीकृत कराने के लिए वह केंद्रीय सड़क एवं भूतल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से भी मिले थे। केंद्र सरकार की मंजूरी मिलने के बाद अब राष्ट्रीय राजमार्ग

प्राधिकरण इनकी विस्तृत परियोजना रिपोर्ट तैयार करेगा।रिपोर्ट को स्वीकृति मिलने के बाद हाईवे निर्माण के लिए निविदाएं आमंत्रित की जाएंगी। एनएचआईए के अधिकारियों से मिलकर जल्दी डीपीआर बनाने का आग्रह करेंगे ताकि हाईवे निर्माण अगले साल से शुरू हो सके।